खलनायको के खलनायक, महान बादशाह ‘अमजद खान’को जीवनी

0
22

खलनायको के खलनायक, महान बादशाह ‘अमजद खान’को जीवनी

उनकी सबसे ज्यादा फेमस डॉयलॉक ‘कितने आदमी थे….’ सुनते ही सिर्फ एक ही शख्स का चेहरा सामने आता है. और वो है ‘गब्बर सिंह’ यानी डर का दूसरा नाम. उन्ही गब्बर सिंह उर्फ अमजद खान का आज 77 वा जन्मदिन है.





पाकिस्तान के पेशावर में जन्मे अमजद ने बॉलीवुड में गब्बर के नाम से अपनी एक खास पहचान बना ली थी. लेकिन हिंदी सिनेमा के इस बेहतरीन अभिनेता ने जिस पुरे तन और मन से नेगेटिव किरदार निभाए उतनी ही लगन से पॉजिटिव किरदार भी निभाए और अपनी एक अलग पहचान बनाई ..फिर चाहे वो दोस्त का किरदार हो, भाई का हो या फिर पिता का…हर किरदार को अमजद खान ने ऐसा गढ़ा कि वो हिंदी सिनेमा के इतिहास बन गया

अमजद को कला विरासत में मिली थी. उनके पिता जयंत फिल्म इंडस्ट्री में खलनायक रह चुके थे. अमजद खान ने बतौर कलाकार अपने अभिनय जीवन की शुरूआत वर्ष 1957 में प्रदर्शित फिल्म ‘अब दिल्ली दूर नही’ से की थी . इस फिल्म में अमजद खान ने नन्हे कलाकार की भूमिका निभाई. अमजद खान ने अपनी भूमिकाओं में परिवर्तन भी किया. उन्होंने फिर कई फिल्मो में हास्य किरदार निभाकर दर्शको का खूब मनोरंजन भी किया.

Actor Amjad Khan & Wife Shaila Khan with Sons Shadaab & Seemaab Khan & Daughter Ahlam Khan

इसके बाद वर्ष 1981 मे अमजद खान के अभिनय का नया रूप दर्शकों के सामने आया. प्रकाश मेहरा की सुपरहिट फिल्म ‘लावारिस’ में वह अमिताभ बच्चन के पिता की भूमिका निभाने से भी नही हिचके. हांलाकि अमजद खान ने फिल्म ‘लावारिस’ से पहले अमिताभ बच्चन के साथ कई फिल्मों में खलनायक की भूमिका निभाई थी पर इस फिल्म के जरिये भी अमजद खान दर्शको की वाहवाही लूटने में काफी सफल रहे.





हम आपको बनता दे की, फिल्म ‘याराना’ मे अपने दमदार अभिनय के लिये अमजद खान अपने सिनेमा करियर में दूसरी बार सर्वश्रेष्ठ सह कलाकार के फिल्मफेयर पुरस्कार से भी सम्मानित किए गए. इसके पहले भी 1979 में भी उन्हें फिल्म दादा के लिए सर्वश्रेष्ठ सह कलाकार के फिल्म फेयर पुरस्कार से सम्मानित किया गया था. इसके अलावा वर्ष 1985 में फिल्म ‘मां कसम’ के लिए अमजद खान हास्य अभिनेता के फिल्मफेयर पुरस्कार से भी सम्मानित किए गए.

एक दुर्घटना के दौरान अमजद खान लगभग मौत के मुंह से बाहर निकले थे और इलाज के दौरान दवाइयों के लगातार सेवन करने से उनके स्वास्थ्य में लगातार गिरावट आती रही. लगातार अमजद का शरीर भारी होता गया. 90 के दशक में स्वास्थ्य खराब रहने के कारण अमजद खान ने फिल्मों मे काम करना कुछ कम कर दिया. अपनी अदाकारी से लगभग तीन दशक तक दर्शकों का भरपूर मनोरंजन करने वाले हरदिल अजीज अभिनेता अमजद खान का देहांत 27 जुलाई 1992 को वो इस दुनिया से रूखसत हो गए.और वो आज भी सरे लोगो को दिलो पे राज करते है





यह भी पढ़ें:

हनी सिंह क्यों नहीं गाते है अब गाने, वजह कर देगी आपको हैरान

रावण के दस सिर क्यों थे? जानिये रावण से जुड़े कुछ रोचक बाते

100 साल की उम्र में PHD करने जा रहे है ये व्यक्ति

Happy Diwali Status in Hindi & English | Diwali Quotes

——————————————————————————————————————————————————
हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए Zeephy News के Facebook पेज को लाइक करें


————————————————————————————————————————————————–